Hindi shayari, best hindi shayari, jakhmi dil hindi shayari

 Best hindi shayari & jakhmi dil hindi shayari 


हिंदी शायरी और बेस्ट हिंदी शायरी जख्मी दिल हिंदी शायरी, बेदर्द इश्क़ की दास्ताँन और जख्मी दिल की कुछ अरदास वाली बेहतरीन शायरी हिंदी में, हिंदी शायरी आपके लिए कुछ अनमोल दर्द भरी और कुछ बेपनहा इश्क़ में तपती दिल की कुछ खुवाइशे बेस्ट हिंदी शायरी, जख्मी दिल हिंदी शायरी के कुछ अनमोल पल में एक आशिक की दर्द भरी बातें और अकेलेपन में महसूस की हुए शायरी आपके लिए दोस्तों पोस्ट को जरूर शेयर करे धन्यवाद।

best hindi shayari
credit - shayarana group on facebook.com



                          वो एक शाम तेरे साथ शायरी 

न उसका चेहरा याद है न उसका नाम याद है..
बस वो छुअन याद है और वो शाम याद है…!!


दर्द की पूरी किताब शायरी 



आंसुओं ने खोलकर रख दी मेरी दर्द की पूरी किताब..
अनपढ़ हैं तेरी आंखें उन्हें कुछ पढ़ना ही नहीं आता!!


मोहब्बत में मुजरिम शायरी 

वादो के कैदखाने का मै वो मासुम सा मुजरिम हुँ..
जिसे फाँसी चढ़ा डाला मौहब्बत के वकीलो ने...!!


बस ये शायर इश्क़ लिखता है 


ये मत समझना की तेरे हिस्से का वक़्त किसी और के साथ बीतता है..बस ये शायर अब कभी इश्क़ तो कभी नफरत लिखता है ...!!





धोखा नहीं दिया शायरी 

धोखे बहुत मिले ज़िंदगी में पर किसी को कभी धोखा नहीं दिया..
तेरे जाने के बाद बहुत मोके मिले पर किसी को मौका नहीं दिया...!!



जान लेकर मोहब्बत शायरी 

समंदर भी तेरी तरह मतलबी निकला..
जान लेकर लहरों कहता है लाश को किनारे लगा दो...!!




दिल लगाती आशु बहाती शायरी 


इन आँखों की शरारत भी कभी समझ नहीं आती..
कभी तो दिल लगाती हैं और कभी तो आँसू बहाती है...!!




रात में सुकून शयारी 

कभी यादों में किस्से किस्सों में तुम्हारी बात ढूँढती हूँ..
कभी ढूँढती हूँ रात में सुकून कभी सुकून में रात ढूँढती हूँ...!! 


गैरत की बात शायरी 
कोई मुझे चाहे न चाहे सब गैरत की बात है..
मगर तू भी मुझे समझ न पाए हैरत की बात है…!!

उफ्फ वो जलाता रहा मेरे होंठो को और मैं उसे चूमती रही..
कमबख़्त ये कैसा इश्क़ मै चाय के कप से कर बैठी हुं…!!


आईने वाली शायरी 

समाई किस तरह मेरी आँखों की पुतलियों में..
वो एक हैरत जो आईने से बहुत बड़ी थी...!!


मुकम्मल करदो ज़िंदगी  मेरी शायरी 

मुक्कमल कर दो ये जिंदगी तुम मेरी..
क्योंकि अधुरी ख्वाहिशों मे मै साथ तुम्हारा ढ़ूँढ़ती हूँ…!!



इश्क़ के मैदान शायरी 

इश्क़ के किस्से ना छेड़ो दोस्तों..
में इसी मैदान में हारा था कभी...!!


समय वाली शायरी 


कोई समय से पुछ रहा है..
क्या घाव वास्तव मे भर जाते है...!!

गौर से देख मुझे शायरी 

क्या तेरे बग़ैर मैं जी लूँगी..
गौर से देख एक बार मुझे...!!




तेरी यादें काँच के टुकड़े..
और मेरा दिल नंगे पाँव…!!



hindi shayari sad
credit - facebook sayarana group  






ज़िद नहीं करते मेरी जान अभी मुश्किल है..
भूल जाऊँगी तुझे जब भी सहूलत होगी…!!
ठिकाना नहीं शायरी

सुनो ठिकाने लगा दो मुझे..
अब कोई ठिकाना नही मेरा...!!


उस दिन से शिकायत शायरी 


रह-रह कर होती है तलब तेरे लफ्जों की..
शायद हमारे दरमियां कोई रिश्ता रूहानी है...!!

साथ में रोते देखा है शायरी 

मैंने खुद को खुद में खोते देखा है..खामोशियों को भी साथ में रोते देखा है ...!!






नफ़रत करोगे तो भी आऊंगी तेरे पास कि..
तेरे बगैर इस दिल को धड़कने की आदत नहीं…!!



दुआ मेरे दिल से शायरी 

साँसें जब तक मेरी यूँ ही चलती रहेंगी..
यही दुआ मेरे दिल से निकलती रहेगी...!!

hindi shayari ishq bedardi
credit - shayarana group on facebook 




रात की चांदनी शायरी 
भले ही किसी और के रात की चांदनी हो तुम..


तुम रूह मेरी पर ये बात तुम नहीं जानते हो...!!



बया करु ख़ामोशी लफ़्ज नही  शायरी 


कैसे बया करु ख़ामोशी लफ़्ज नही है इनके पास..
आओ कुछ पल पास तो बैठो मिल कर समझो इनका अहसास...!!





                                                 बेख़बर तेरे हर एक चाल से ऐ मुहब्बत..
                                    अब हुए वाकिफ़ शतरंज के अलावा और किसी खेल से...!!

                                                      अपने आप को जोड़ने की कोशिस 



किसी और  से मोहब्बत क्या करू अब में..     अभी फिर से अपने आप को जोड़ने की कोशिश में लगा हु...!!


वादे तुम्हारे याद आते हैं शायरी 


नई सड़कों को बनता देखता हूँ और हँसता हूँ..
मुझे ये देख कर वादे तुम्हारे याद आते हैं...!!


सपने सजोया न कर शायरी 

                                         दिल कहता है आँखों से तू अब सपने सजोया ना कर..
                              मैं बेशक धड़कूँगा उसकी यादों में पर ऐ आँखें तू यूं रोया ना कर...!!


                                                       थोड़ा तुम बदल जावो शायरी 
                                                                     
 शुरू करते हैं फिर से मोहब्बत तुम चले आओ..थोड़ा हम बदल जाते हैं थोड़ा तुम बदल जाओ...!!


ख़ुद के किस्से ढूँढ रही हूँ शायरी 

दूसरों की कहानी में ख़ुद के किस्से ढूँढ रही हूँ..

निःशब्द हो गयी हूँ  मैं शब्द ढूँढ रही हूँ...!!


मेरी मोहब्बत की गहराई को तुने समझा ही नहीं..तेरे बदन से दुपट्टा हटते ही नजरे झुका ली थी मैने...!!

hindi shayari sad
credit goes to facebook shayarana group



तुम्हारे बिना न जीना पड़े.शायरी 

यदि तुम सौ साल तक जीते हो..

तो मैं सौ साल में एक दिन कम जीना है तुम्हारे बिना न जीना पड़े...!!


लफजों में थोड़ा जहर शायरी 

शायरीयां भी डस लेती है हजूर..बस लफजों में थोड़ा जहर डाल कर देखो...!!

इश्क़ का कलमा शायरी 

ये इश्क़ का कलमा है ज़रा सहम के पढ़ना..
दिलों से खेलना  कहीं तेरी आदत ना बन जाए…!!


नजरो से ढूंढोगी नजर शायरी 

नजर अंदाज करते हो लो हट जाते हैं नजरो से..

इन्ही नजरो से ढूंढोगी नजर जब हम नहीं आयेंगे...!!


मेरी वाली काजल में शायरी 

मेरे क़त्ल की तैयारी लगती है..
मेरी वाली काजल में बहुत प्यारी लगती है...!!


वक्त लिख गया चेहरे की लकीरों पे कहानी अपनी..
ऐ जिंदगी तुझे लिखने को एक उम्र भी छोटी निकली...!!


ज़िंदगी की शायरी 

जिंदगी जो अस्ल मे दिखती है वो होती कहां है..
जख्मी हो गई बेइंतहा बताओ मरम्मत होती कहां है…!!


चाँद भी तो अकेला है शायरी 

अकेले रहने की शिकायत क्यों करते हो..
चाँद भी तो ऊपर अकेला है...!!


महबूब का राख  शायरी 

इश्क की शय ज़िन्दगी बन गयी..
महबूब का राख होना लाजमी था साहिब...!!


इश्क़ की किताब तोहफे में शायरी 

जिन्हें इश्क़ का एक लफ्ज़ भी ना आता था..
उन्हें हम इश्क़ की किताब तोहफे में दे बैठे...!!


रिहाई मार देती है शायरी 

मोहब्बत क़ैद है इस क़ैद का आदी न हो जाना..
सलाखें टूट भी जाएं तो रिहाई मार देती है…!!


आपके इंतजार में  शायरी 

मेरी बाहें तो आज भी खुली है आपके इंतजार में..
अगर जिन्दगी जीने का शौक हो तो चले आना...!!

कभी नीलम  कभी हीरा कभी पुखराज मे ढ़लने वाले..
हम ने पत्थर भी चुने तो रंग बदलने वाले...!!

अलविदा कह देंगे शायरी 

दिसंबर की तरह हम भी अलविदा कह देंगें एक दिन..
फिर ढूँढते फिरोगे हमें जनवरी की तरह सर्द रातों में…!!


दिल के किसी कोने मे शायरी 

आज भी एक सवाल छिपा है दिल के किसी कोने मे..
क्या कमी रह गई थी तेरा होने में…!!


जानलेवा शायरी 

जानलेवा थीं ख़्वाहिशें वरना..
मिलन से इंतज़ार अच्छा था…!!

कुछ दर्द के लम्हें शायरी 



छलकता है कुछ इन आँखों से रोज..

कुछ प्यार के कतरे कुछ दर्द के लम्हें...!!


 महज अल्फाज नहीं थें शायरी 

जो लिख दिया हमनें वो महज अल्फाज नहीं थें..
मगर जज्बात दिल के यूँ यहाँ समझता कौन हैं…!!




इश्क में इंतजार शायरी 

महोब्बत सब्र के अलावा कुछ नहीं है..
मैंने कितनों को इश्क में इंतजार करते देखा है...!!


तुम पर सब कुछ हार जाऊँ शायरी 

ये जिद्द है मेरी क़ि तुम्हें जीत लूँ औऱ..
ये भी जिद्द है मेरी क़ि तुम पर सब कुछ हार जाऊँ…!!



मेरी तस्वीर बनाओ तो सब रंग भरना पर..
जब आँखे बनाओ..
तो उसके इंतजार में आँसू बहते जरूर दिखाना…!!


इस जनवरी की शाम शायरी 

रगों में लहू जमाती इस जनवरी की शाम में.. तुम्हारे इंतज़ार की तपिश में जलना इश्क़ है…!!

इबादत के लिए खुदा  शायरी 

तेरे बगैर इश्क़ हो भी तो कैसे हो..
इबादत के लिए खुदा भी तो ज़रूरी होता है…!!



ज़िंदा रहने के लिए शायरी 



कुछ देना तेरे बस में नहीं इतना तो पता है..

कोई ज़ख्म ही दें ज़िंदा रहने के लिए…!!


एक बरस इंतज़ार में. शायरी 

अब के बरस भी वो नहीं आये बहार में.. 
गुज़रेगा और एक बरस इंतज़ार में...!!


उम्मीदवार हम आज भी हैं शायरी 



न जाने किस के मुकद्दर में लिखे हो तुम मगर ..
ये सच है की उम्मीदवार हम आज भी हैं...!!





मौसम की शरारत शायरी 


कसूर मेरा नहीं मौसम की शरारत है..

एक खास शक्स के साथ चाय पीने की चाहत है…!!

 आहें इन सर्द हवाओं में शायरी 

ये तुम्हारी गरम-गरम आहें इन सर्द हवाओं में..
आओ समा लू इस साँझ तुम्हें में अपनी बांहों में…!!


कुछ इश्क़ जैसा शायरी 

इश्क़ तो हम को नहीं था आप से..
था मगर कुछ इश्क़ जैसा आप से...!!

तेरे शहर के कारीगर शायरी 

तेरे शहर के कारीगर बङे अजीब हैं ए दिल..
काँच की मरम्मत करते हैं पत्थर के औजारों से…!!

हम तेरी रूह से बँधकर शायरी 

कोई बंधन कोई रिश्ता कोई दीवार नहीं..
हम तेरी रूह से बँधकर तेरे हमराह हुए...!!

सच्ची महोब्बत की मिसाल  शायरी 

सच्ची महोब्बत की मिसाल वो भी क्या खूब दे कर गए..
मर कर एक दूसरे की आग़ोश में पूरी ज़िन्दगी जी गए…!!

Post a Comment

0 Comments