Sad Shayri Shawan Love Shayri Jokes July 2019


एक और धमाका शायरी का  

अच्छी अच्छी शायरी पड़ने के लिए आप मेरे ब्लॉग को फॉलो कीजिये और अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये और बने रहे हमारे साथ दिल वाली टूटे दिल वाली अकेलापन शायरी रोमांटिक शायरी सैड शायरी लव शायरी सबकुछ मिलिगी यहां इसलिए बने रहे हमारे साथ और शेयर करना न भूले . 

                                           photo upload by your quote.in my account


तेरे लबों को चूम के मानो ग़लती कर दी हो हमने..
अब चाय हो या कॉफ़ी दोनो शुगर फ़्री लगती हैं...!!

************************************

 इलाइची की महक ओढ़े अदरक का श्रृंगार कर सजी थी..
केतली की दहलीज से निकल कर प्याली की डोली में बैठी थी...!!!!

***********************************

आँख तुम्हारी मस्त भी है और मस्ती का पैमाना भी..
एक छलकते साग़र में मय भी है मय-ख़ाना भी...!!

***********************************

तीन ही तो शौक हैं मेरे..
चाय  शायरी और तुम...!!

***********************************

सुलगते रहो अब उम्र भर..
मुझे पा के भी खो दिया तुमने...!!



***********************************
जब लफ्ज़ अपनी कीमत खो देते है..
तो खामोशी अपने आप अच्छी लगती है...!!

***********************************


हमारे पूर्वज पत्थरो से आग लगाते थे..
और मेरी पड़ोसन नई साड़ी पहनकर...!!

***********************************

कोई मुझे बतायेगा मच्छरो के देवता कौन है
प्रशाद चढ़ाना है ।कमबख्तों ने सोना हराम कर रखा है...!!

************************************



तुम्हारा मिलना इत्तेफाक नहीं है..
एक उम्र की तन्हाई का मेरा मुआवजा हो तुम...!!

***********************************


तेरी यादों की नौकरी में दीदार की पगार मिलती है..
खर्च हो जाते है अश्क़ नैनों के रहमत कहाँ उधार मिलती है...!!

************************************

कुछ कहानियाँ अक्सर अधूरी रह जाती हैं..
कभी पन्ने कम प़ड़ जाते हैं तो कभी स्याही सूख जाती है...!!

************************************


ये तो नसीब है ...दोस्त"
किसी को कोई मिला भी नही कोई मिलके जुदा हो गया...!!

************************************


दिलवाले तो और भी होंगे तुम्हारे शहर में मगर..

हमारा अंदाज़-ए-वफ़ा तुम्हे हमेशा याद आएगा...!!


*************************************



दास्तां ए-जिन्दगी अब क्या सुनाएं अपनी..

तुम्हें पाकर भी अधूरे थेतुम्हें खोकर भी अधूरे है...!!


**************************************



सुन रहे है बाते हमारी लोग बड़े गौर से..
जैसे कभी गुज़रे ना हो इश्क़ के इस दौर से...!!

**************************************


इश्क का स्कुल छोड़कर तुम बेशक चले गए..
पर हम रोज हाजिरी देते हैं तेरी यादों के क्लास में...!!

**************************************

गुज़र जायेगी ज़िन्दगी उसके बगैर भी..
वो हसरत-ए-ज़िन्दगी है शर्त-ए-ज़िन्दगी तो नहीं...!!

****************************************




परखने से कहा जाहिर हुई शख्सियत किसी की जनाब..
हम तो बस उन्हीं के हैं जिन्हें हम पर यकीन नहीं है...!!

****************************************



मेरी बदतमीजियाँ तो जग जाहिर हैं लेकिन..

शरीफों की शराफत के निशां क्यों नहीं मिलते...!!

****************************************

अब तो खुदा भी मुझसे रूठ गया कहता है..
मुझे सिर्फ तीन वक्त और उसे हर वक्त...!!

****************************************

उनकी नजर में कोई फर्क आज भी नहीं..
पहले मुड़कर देखते थेअब देखकर मुड़ जाते हैं...!!

****************************************

खोल दी थी मैंने जिंदगी की किताब तेरे सामने..
पर तूने पढ़ा वो जो पन्ना आखरी था...!!

****************************************

मोहब्बत हाथ में पहनी गयी चूड़ी की तरह होती है..
खनकती हैसंवरती है और आखिर टूट जाती है...!!

***************************************

आज "अकेलापन" इतना सता गया मुझको..
कि "आईने" से बात कर बैठा...!!

****************************************

आँखों में देखी जाती हैं प्यार की गहराईयाँ..

*
शब्दों में तो छुप जाती हैं बहुत सी तन्हाईयाँ...!!

*****************************************

किसे है तेरे आने की उम्मीद..

मेरी तो फितरत हैं बेवजह तेरा इंतजार करना...!!

******************************************

सुनो
इस जन्म तुम निभा न सकें ...
अगले जन्म में पहले ही बता देना...!!

*******************************************


दो चार नहीं सैंकड़ों शेर उस पे कहे हैं..
इस पर भी वो समझे न तो क़दमों पे झुकें क्या...!!

********************************************

धागा खत्म हो गया था तुम्हें मन्नतों में मांगकर..
इस बार दिल बांध आया हूं तुम्हारे नाम पर...!!

********************************************

तू तो नफ़रत भी न कर पाएगी उस शिद्दत के साथ..
जिस अदा से हमने तुझसे प्यार किया है ऐ बेख़बर...!!

********************************************

मेरे जरे जर्रे को खाक करके..
उफ्फ्फ्फ...क्या मिला होगा उसे ऐसा मजाक कर के...!!!

********************************************

रुतबा तो खामोशियों का होता है मेरे दोस्त..
अलफ़ाज़ तो बदल जाते है लोगों को देखकर...!!

*********************************************

हर पन्ना तेरे नाम से रंग दिया है..
मेरी डायरी से पूछ इश्क किसे कहते है...!!

*********************************************

चलो मैं हो जाऊँगा खामोशकिसी रोज तुम्हारे बगैर..
हमारे इश्क़ में तुम्हारीकोई तो ख्वाइश पूरी हो...!!

*********************************************


हम जिसे चाहते थे वो चाहने लगे किसी और को..
खुदा करे कि वो जिसे चाहते है वो न चाहे किसी और को...!!

********************************************


ढूँढोगे जब उजड़े रिश्तों में वफ़ा के खज़ाने..
​मेरे बाद मेरे हमनामों का भी अहतराम करोगे...!!

********************************************


डालना अपने हाथों से कफन मेरी लाश पर..
की तेरे दिए जखमों के तोहफे कोई और ना देख ले...!!

*******************************************


कुछ इस तरह से सौदा कियामुझसे मेरे वक़्त ने.. 
तजुर्बे देकर वो मुझसेमेरी नादानीयाँ ले गया...!!



******************************************************* 

                      पड़ने के लिए धन्यवाद 

Post a Comment

0 Comments