Love Shayri Hindi mai

महबूब और महबूबा की मस्त मस्त शायरी   ऐसी शायरी अपने कभी नहीं पड़ी होगी जिंदगी मै पढ़िए और अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये जवान लड़का और लड़की की  एक  दूजे पर मस्त शायरी लाया हु इस बार दोस्तों शेयर जरूर कीजिये अपने दोस्तों के साथ  थैंक्स। 





hindi love shayri



वो नदी के होठों को चूम आई..
सारा पानी शर्बत हो गया...!!!





सुनो जान
मेरी तमाम उलझने सुलझ जायेगी..
जिस दिन तेरी उँगलियाँ मेरी उँगलियों में उलझ जायेगी...!!! 




सुनो जान 
मैं जितना तुम्हे समझता गया, उतना तुममें..
उलझता गया तुम इंसान हो कि ऊन का लच्छा...!!!



अंदाज़__मोहब्बत है बड़ा नट_खट्ट सा उसका..
बांहों में गिर के कहती है सम्भालो_मुझको...!!!





जिसे सुनते ही आवाज़ बढाने को दिल करे
हाँ मेरे लिए वो ही गाना हो तुम...!!!



इतने प्यार से मेरी तरफ ना देखो..
मेरी जान व्रत चल रहे हैं पाप लग जायेगा...!!!


उनकी गहरी नींद का मंजर कितना हसीन होता होगा️..
तकिया कहीं जुल्फें कहीं और वो खुद कहीं...!!!


मैं करता रहा इंतज़ार मुँह खोले 'बारिशों' का..
एक छीट उसके 'जुल्फों' की तरबतर कर गयी...!!!


मैं तुम्हारी साडी का पिन होना चाहता हूँ️..
टंकने से पहले होठों मे दबना चाहता हूँ...!!!


मिले होंगे वो किसी को बिन मांगे ही.. 
मुझे तो इबादत से भी उसका इन्तजार मिला...!!!




काश कोई मेरी 'इलायची' को बता दे..
की उसकी'चाय' उदास हैं उसके बिन...!!!




मैं तो रंग हूँ उस पगली के चेहरे का..
जितना वो खुश रहेगी उतना मैं निखरता जाऊँगा...!!!





बड़े घर की लड़की थी साहेब

छोटे से दिल में कैसे रहती...!!!




गोरे जिस्म की तलाश मे कभी निकला ही नही..
मैं शुरू से ही फिदा था तेरी सांवली सी सूरत पे...!!!


मैं उसको पंसद हूँ, ये मेरा मसला नहीं है..
उसका इलाज कीजिए, उसकी पंसद बहुत बुरी है...!!!


इश्क़ का व्रत तेरे नाम पे रख लिया हमने..
अब किसी और को सोचना भी गुनाह लगता...!!!


चाहने वाले तो मिलते ही रहेंगे तुझे सारी उम्र बस तू..
कभी जिसे भूल न पाए वो चाहत यक़ीनन हमारी होगी...!!!


तोड़ कर फेंक दी उसने तोहफ़े में दी हुई पाजेब डर था..
उसे ये खनकेगी तो एक कदम भी चल ना पाऊँगी...!!!



बाज़ुओं में तुम मुझे बेतहाशा घेरे हो..
कल की फ़िक्र है किसको तुम अभी तो मेरी हो...!!!


चूम लेते हो जिसे देख के तुम आईना..
अपने चेहरे का वही अक्स बना लो मुझको...!!!


तुम मेरी वो किताब हो जिसका.. 
हर लफ्ज मुझे 'मुँह ज़ुबानी याद है...!!!

कुछ चीजे सच मे बहुत खुबसुरत होती है जेसे..
ये मोसम ओर साहिबा कि पहनी वो लाल साड़ी...!!!

लड़ झगड़ कर ही सही.. 
तुझसे उलझे रहना भी तो इश्क़ है...!!!


 जरुरी हैं रूठना और मनाना मोहब्बत  में.. 
कहते हैं इश्क जवां इन्हीं अदाओं से रहता हैं...!!!


लगा ले मेरे नाम की मेंहदी इन हाथों पे..
शौक ए निकाह ना सही
अहसास ए मोहब्बत तो मुकम्मल होंगी...!!!

लब चूमे, ज़ुल्फें संवारी, बाहों में ले लिया हमने..
मत पूछ रात खयालों में तेरे साथ क्या क्या किया हमने...!!!

मेरे हाथों से पायल पहनने की तमन्ना थी उनकी..
अफ़सोस उन पैरों का हक़दार कोई और हो गया...!!!


इतना प्यारा है वो चेहरा कि नज़र पड़ते ही..
लोग हाथों की लकीरों की तरफ़ देखते हैं सुनो...!!!


जब कभी देख लूँ तुमको तो
मुझे महसूस होता है कि दुनिया बड़ी खूबसूरत है...!!!


तेरे संग भीगूँ मैं मोहबत्त की बरसात में..
खुदा करे उसके बाद तेरे इश्क का मुझे बुख़ार हो जाये...!!!


तुम्हारी प्रोफ़ाइल पर किसी और के कैमेंट्स..
वाकई तीर की तरह चुभते है...!!!

बहुत  प्यार आता है उस पर जब वो  रोते हुए कहती थी..
बहुत मारुंगी हा अगर मुझे छोड़कर गये तो...!!!

बदल जाती है हक़ीक़त ज़िंदगी की..
जब मुस्कुराकर तुम कहते हो बहुत प्यारे हो तुम...!!!

जरुरत नहीं मुझे तुम्हारी तारीफ़ करने की..
मै लाया ही हूँ तुम्हे लाखो में से चुनकर...!!!

बेपनाह बेशुमार बेहद बेवजह..
बस कुछ इसी तरह मैंने चाहा था आपको...!!!

अजीब जादूगरी है उनके चेहरे पर..
आंखे देख कर दिल रफ्तार पकड़ लेता है...!!!

काली नागिनों का डेरा है उसकी ज़ुल्फ़ों में..
ज़रा जो होश में आऊँ तो डंस लेती हैं...!!!























Post a Comment

0 Comments