Love Or Sad Shayri Hindi Mai


कुछ खट्टी कुछ मीठी शायरी  दोस्तों आज आपके लिए मिक्स लव सेड शायरी कॉम्बो लाया हु इसमे कुछ लव शायरी ह कुछ दुःख भरी शायरी ह सो मिक्स वाली पढ़िए आज और अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये 



badnasseb
Manzil shayri



जाते जाते एक जोड़ी कंगन ही तोहफ़े मे दे जाते..
वो हाथों मे खनकते और तुम दिल में...!!!

***************************************







बेहद तारीफ़ करता रहा बिंदी में उसकी..
ओर फिर शब्द कम पड़ गए जब उसने जो झुमका पहना...!!!

****************************************



अब हाथ जोड़कर क्यूं कहते हो कि बखेड़ा ना करो..
मैंने पहले ही कहा था कि मैं शायर हूं मुझे छेड़ा ना करो...!!!

*********************************************






तुझे रोज देखने की आदत सी हो गयी है..
गर कहों तो तुम्हारा शहर खरीद लूं...!!!


**************************************






मैने इश्क़ की गलियो मे अक्सर अन्धेरा देखा है जिन आँखो.. 
मे थे सपने प्यार के अक्सर उन आँखो को रोते देखा है...!!!

*********************************************



हम पायल की झंकार सुनने के लिये बेताब है..
और उनको आदत है धीरे चलने की...!!!

*********************************************



जो हमें नपा सकी...!!!


*******************************************



लोग पूछे जो मेरी कहानी तुमसे..
तो कहना वो नफरत के लायक भी नहीं था...!!!

******************************************



अगर मैं सुधर गया तो उसका क्या होगा..
जिसको मेरे पागलपन से प्यार है...!!!

***************************************




नहीं है शिकवा तेरी बेरुखी का..
शायद मुझे ही तेरे दिल में घर बनाना नहीं आया...!!!

*****************************************


ये समझ के माना है सच तुम्हारी बातों को..
इतने ख़ूबसूरत लब झूट कैसे बोलेंगे...!!!

**********************************





फिजायें खुद बिखेरेंगी महक मेरे दास्तां की..
हवा में गुम हो जाये वो खुशबू नही हूँ मैं...!!!


******************************************



कोई मुझसे पूछेगा,मेरी मोहब्बत की कहानी..
और मैं धीमी सी आवाज़ में कहूँगा, मुलाकात को तरस गए...!!!


**********************************************



निकले थे इस आस पे, किसी को बना लेंगे अपना..
एक ख़्वाइश ने उम्र भर का "मुसाफिर" बना दिया...!!!

*****************************************


क्या लाजवाब था तेरा छोड कर जाना..
भरी भरी आँखो से मुस्कुराये थे हम...!!!


*****************************************


थिरकते तेरे इन होंठों पर रूहानी अल्फाज़ लिख दूँ..
पास तो आ ज़रा इश्क़ का सारांश लिख दूँ...!!!

****************************************


तुम क्या सिखाओगे मुझे प्यार करने का सलीका..
मैंने "माँ" के एक हाथ से 👋थप्पड़, दूसरे से रोटी खाई है...!!!

*************************************************


मत कर हिसाब मेरे प्यार का,कही ऐसा ना हो की..
बाद में तू ही कर्जदार निकले...!!!


***************************************


तुझे फुर्सत ही न मिली मुझे पढ़ने की वरना..
हम तेरे शहर में बिकते रहे किताबों की तरह...!!!




*******************************************************



मेहरबाँ हो के बुला लो मुझको..
मैं गया वक़्त नहीं हूँ जो फिर लौट के आ भी न सकूँ...!!!

***********************************************



लिखने वाले ने क्या खूब लिखा है..
जिंदगी जब मायूस होती है तभी महसूस होती है...!!!



********************************************


मिलता तो बहुत कुछ है ज़िन्दगी में पर हम..
गिनती उसी की करते है जो हासिल ना हो सका
…!!!



**************************************************************

                         धन्यवाद 





Post a Comment

0 Comments